बच्चे को 2 घंटे में सुपुर्द किया प्रियवंदा ने

भोपाल खेलते-खेलते घर से दूर निकला 3 साल का बच्चा अजय, पुलिस ने परिजन को 2 घंटे तलाश कर किया सुपुर्द
    
भोपाल  01.जनवरी बुधवार। आज दोपहर को पउनि. प्रियवंदा सिंह दौराने दिवस अधिकारी डयूटी में थाना उपस्थित थी, जन नागरिक ब्रिजेश सिंह रघुवंशी निवासी- पी0जी0बी0टी0 कृष्णा कालोनी द्वारा एक बालक उम्र करीबन 03 साल को लेकर थाना आया व बताया कि उक्त बालक अपने माता-पिता से बिछड गया है तथा अपना कोई नाम पता नही बता पा रहा है, तभी उक्त बच्चे को पुलिस संरक्षण में लेकर हमराह प्र0आर0 2639 अवतार सिंह आर. राजेश रघुवंशी तथा आर. अशोक माली के साथ अलग अलग मोटर साइकल से तत्काल बच्चे को साथ लेकर इसके परिजनो की तलाश हेतु थाना क्षेत्र में रवाना हुए। सम्पूर्ण थाना क्षेत्र घूमते हुए इन्द्रा सहायता नगर झुग्गी पर पहुचे जहा पर बच्चे की मां ललिता बाई पति रमेश उम्र 35 साल निवासी- इन्द्रा सहायता नगर डी0आई0जी0 बंगला मो. न. 9111397497 मिली, जिसने उक्त बच्चे को स्वयं का होना बताया तथा आस पास के लोगो द्वारा मां ललिता बाई का ही बच्चा होना बताया बच्चे का नाम अजय वर्मा उम्र 03 साल बताया तथा बच्चे को देखकर परिवार वालो ने राहत की सास ली। बच्चे की मां ने बताया कि बालक खेलते हुए कही चला गया था, जिसे हम लोग भी काफी देर से तलाश रहे थे। बच्चे की मॉ को बच्चे की देखरेख हेतु उचित समझाईस दी गयी तथा बच्चे अजय वर्मा को मॉ ललिता बाई को सुपूर्द किया गया।
             
    उक्त कार्यवाही थाना प्रभारी महेन्द्र कुमार मिश्रा ,पउनि. प्रियंवदा सिंह प्र.आर. 2639 अवतार सिंह ,आरक्षक 2719 अशोक माली , आरक्षक 1382 राजेश रघुवंषी , आर. 2859 ओमप्रकाश  की सराहनीय भूमिका रही।


टिप्पणियाँ
Popular posts
अवैध कब्जा करने वालों को चिन्हित करते हुए उनके खिलाफ एंटी भू माफिया, गैंगस्टर आदि धाराओं में कठोरतम कार्यवाही के निर्देश
चित्र
सभी मतदेय स्थलों में छाया, शौचालय, पेयजल व्यवस्था एवं बुजुर्ग, दिव्यांग मतदाओं हेतु रैम्प आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए - जिलाधिकारी
चित्र
जनपद में राजस्व व पुलिस विभाग की संयुक्त टीमों का गठन कर चकमार्गों, तालाबों पर अवैध कब्जों को हटाया जाये - केशव प्रसाद मौर्य
चित्र
हर व्यक्ति को प्रत्येक दिन योग का अभ्यास करना चाहिए - दिनेश सिंह कुशवाहा
चित्र
भारत को विश्वगुरू बनाने के लिए आगे आए ब्राम्हण समाज-प्रो. द्विवेदी
चित्र