दिव्यांगजनों को प्रोत्साहित करने के लिए खेलकूद एवं प्रदर्शनी आदि के वृहद आयोजन की तैयारी की जाय

  1. प्रदेश का हर दिव्यांग का विकास हमारी प्राथमिकता-नरेंद्र कश्यप
  2. योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार जनपदों के साथ-साथ तहसील एवं ब्लाक स्तर पर भी किया जाय
  3. वित्तीय वर्ष में अब तक 22 हजार कृत्रिम अंग दिव्यांगजनों को वितरित
  4. दिव्यांगजन पेंशन को आधार से लिंक कराने का कार्य 87 प्रतिशत पूर्ण
  5. जनपद गाजियाबाद में इन्वेस्टर्स समिट के आयोजन में लगभग 08 हजार करोड़ रूपए के एमओयू पर हस्ताक्षर होंगे - मंत्री नरेन्द्र कश्यप

लखनऊ, सोमवार 16जनवरी 2023 (सूवि) माघ मास कृष्ण पक्ष नवमी, शिशिर ऋतु २०७९ राक्षस नाम संवत्सर। प्रदेश के दिव्यांगजन सशक्तिकरण एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) नरेंद्र कश्यप ने सोमवार को विधानसभा स्थित नवीन भवन के अपने कार्यालय में विभागीय समीक्षा बैठक की।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि दिव्यांगजनों को प्रोत्साहित करने के लिए खेलकूद एवं प्रदर्शनी आदि गतिविधियों को लेकर वृहद आयोजन की तैयारी की जाय। उन्होंने कृत्रिम अंग वितरण की समीक्षा की, जिसमें विभागीय अधिकारियों ने बताया कि इस वित्तीय वर्ष में अब तक 22 हजार कृत्रिम अंग दिव्यांगजनों को वितरित किये जा चुके हैं।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि दिव्यांगजनों के लिए प्रदेश सरकार द्वारा संचालित की जा रही योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार जनपदों के साथ-साथ तहसील एवं ब्लाक स्तर पर भी किया जाय। समीक्षा बैठक में दिव्यांगजन अधिकारियों द्वारा बताया गया कि दिव्यांगजन पेंशन को आधार से लिंक कराने का कार्य 87 प्रतिशत पूर्ण हो गया है।पिछड़ा कल्याण मंत्री ने पिछड़ा वर्ग के अधिकारियों से कहा कि पिछड़ा वर्ग के लिए बने छात्रावासों का निरीक्षण कर उनका फिडबैक लिया जाय। उन्होंने पिछड़ा वर्ग के छात्रों को दी जा रही छात्रवृत्ति की समीक्षा की। जिसमें अधिकारियों द्वारा बताया गया कि इस वित्तीय वर्ष में लगभग 23 लाख छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति से लाभान्वित किया जायेगा। निर्धारित समय सीमा में विभागीय योजनाओं से संबंधित कार्यो को पूरा किया जाये। इसके अलावा विभागीय योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक पात्र व्यक्तियो को मिले ये सुनिश्चित किया जाय।

मंत्री ने शकुन्तला मिश्रा विश्वविद्यालय की समीक्षा में अधिकारियों को निर्देशित किया कि विश्वविद्यालय में प्रदेश सरकार द्वारा दी जा रही सुविधाओं एवं योजनाओं का लाभ दिव्यांगजनों को मिले, यह सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के कार्यों की समीक्षा नियमित रूप से की जाय। उन्होंने कहा कि दिव्यांगजनों एवं पिछड़ा वर्ग के लोगों के लिए प्रदेश सरकार द्वारा दी जा रही धनराशि का शत-प्रतिशत उपयोग करते हुए पात्र लोगों को उनका लाभ दिया जाय। मंत्री ने बताया कि विगत दिनों में यूपी इन्वेस्टर्स समिट-2023 के अन्तर्गत मंत्री समूह एवं वरिष्ठ अधिकारियों के साथ चेन्नई गये थे। वहां पर विभिन्न कम्पनियों के प्रतिनिधियों से बैठक की गयी और लगभग 09 हजार करोड़ रूपए का निवेश की सहमति बनी। उन्होंने बताया कि आने वाले दिनों में जनपद गाजियाबाद में इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन होने वाला है, जिसमें लगभग 08 हजार करोड़ रूपए का एमओयू पर हस्ताक्षर होंगे।

बैठक में अपर मुख्य सचिव दिव्यांगजन सशक्तिकरण एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण हेमंत राव, तथा निदेशक पिछड़ा वर्ग कल्याण वंदना वर्मा, रजिस्टार डॉ शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय एवं आयुक्त दिव्यांगजन सहित संबंधित अधिकारीगण उपस्थित थे ।

टिप्पणियाँ
Popular posts
अवैध कब्जा करने वालों को चिन्हित करते हुए उनके खिलाफ एंटी भू माफिया, गैंगस्टर आदि धाराओं में कठोरतम कार्यवाही के निर्देश
चित्र
सभी मतदेय स्थलों में छाया, शौचालय, पेयजल व्यवस्था एवं बुजुर्ग, दिव्यांग मतदाओं हेतु रैम्प आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए - जिलाधिकारी
चित्र
जनपद में राजस्व व पुलिस विभाग की संयुक्त टीमों का गठन कर चकमार्गों, तालाबों पर अवैध कब्जों को हटाया जाये - केशव प्रसाद मौर्य
चित्र
हर व्यक्ति को प्रत्येक दिन योग का अभ्यास करना चाहिए - दिनेश सिंह कुशवाहा
चित्र
भारत को विश्वगुरू बनाने के लिए आगे आए ब्राम्हण समाज-प्रो. द्विवेदी
चित्र