चारों सहकारी समिति कर्मचारी संगठनों से एक-एक प्रतिनिधि लिए गए, हड़ताल खत्म हुई

  • सहकारिता मंत्री के प्रयासों से पैक्स समिति के कर्मचारियों की हड़ताल हुई समाप्त
  • सहकारी समिति कर्मचारी संघों की मांगों के निराकरण के लिए समिति का गठन

लखनऊ, शुक्रवार 12नवम्बर 2021 (सूवि) कार्तिक मास शुक्ल पक्ष नवमी शरद ऋतु २०७८ आनन्द नाम संवत्सर।प्रदेश के सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा के प्रयासों से उत्तर प्रदेश संयुक्त सहकारी समिति कर्मचारी समन्वय समिति एवं उ0प्र0 प्राथमिक सहकारी ऋण समिति कर्मचारी महासंघ के मांग पत्रों तथा पैक्स समिति के कर्मचारियों की समस्याओं से सम्बंधित लंबित मांगों को लेकर चल रही हड़ताल को कर्मचारियों एवं सहकारी समिति संघों द्वारा समाप्त कर दिया गया है।

आज से पैक्स कर्मचारियों द्वारा विभागीय कार्याें को सुचारू रूप से सम्पादित किया जाना प्रारम्भ कर दिया गया है।

उत्तर प्रदेश संयुक्त सहकारी समिति कर्मचारी समन्वय समिति एवं उ0प्र0 प्राथमिक सहकारी ऋण समिति कर्मचारी महासंघ के मांग पत्रों तथा पैक्स समिति के कर्मचारियों की समस्याओं से सम्बंधित लंबित मांगों को लेकर प्रमुख सचिव सहकारिता की अध्यक्षता में नवीन भवन सचिवालय स्थित उनके कार्यालय कक्ष में सहकारी समिति संघ के पदाधिकारियों के साथ बैठक की गयी। बैठक में सहकारी समिति संघों के मांग पत्रों पर विचार करने और संस्तुति देने के लिए अपर आयुक्त एवं अपर निबंधक (बैंकिंग) श्रीमती बी0 चन्द्रकला की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय 08 सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है, जिसमें सहकारी समिति कर्मचारी संगठनों के प्रतिनिधि भी शामिल किये गये हैं।

बैठक में सहकारी समिति के कर्मचारी संघों के पदाधिकारियों द्वारा कर्मचारियों की समस्याओं से उच्चाधिकारियों को अवगत कराया गया तथा प्रमुख सचिव सहकारिता द्वारा उनकी मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने तथा उनकी समस्याओं का नियमानुसार निराकरण कराने पर अपनी सहमति दी गयी। बैठक के पश्चात सहकारी समिति संघों के पदाधिकारियों द्वारा कर्मचारियों की समस्याओं व अपनी मांगों को लेकर की जा रही हड़ताल को समाप्त करने का निर्णय लिया गया है।

प्रमुख सचिव सहकारिता ने सहकारी समिति कर्मचारी संघों की मांगों के निराकरण के लिए गठित समिति को निर्देशित किया है कि वह इस सम्बंध में अपनी संस्तुति एक माह के भीतर शासन को प्रस्तुत करें।

गठित समिति में अध्यक्ष के अलावा समिति के सदस्यों में पी0के0 अग्रवाल वित्तीय सलाहकार मुख्यालय, श्रीकांत गोस्वामी प्रबंध निदेशक एसडब्ल्यूसी लखनऊ, वरूण कुमार मिश्र प्रबंध निदेशक यूपीसीबी लखनऊ, मनोज कुमार प्रबंध निदेशक पीसीयू लखनऊ, जमुना प्रसाद पाण्डेय कार्यकारी निदेशक पीसीएफ लखनऊ, आर0के0 कुलश्रेष्ठ संयुक्त आयुक्त एवं संयुक्त निबंधक मुख्यालय, सुश्री वैशाली सिंह सहायक आयुक्त एवं सहायक निबंधक मुख्यालय, हरीश चन्द्र दीक्षित मुख्य कार्यपालक अधिकारी डीसीबी रायबरेली के अलावा समस्त चारों सहकारी समिति कर्मचारी संगठनों से एक-एक प्रतिनिधि भी शामिल किये गये हैं।

टिप्पणियाँ
Popular posts
अवैध कब्जा करने वालों को चिन्हित करते हुए उनके खिलाफ एंटी भू माफिया, गैंगस्टर आदि धाराओं में कठोरतम कार्यवाही के निर्देश
चित्र
सभी मतदेय स्थलों में छाया, शौचालय, पेयजल व्यवस्था एवं बुजुर्ग, दिव्यांग मतदाओं हेतु रैम्प आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए - जिलाधिकारी
चित्र
जनपद में राजस्व व पुलिस विभाग की संयुक्त टीमों का गठन कर चकमार्गों, तालाबों पर अवैध कब्जों को हटाया जाये - केशव प्रसाद मौर्य
चित्र
हर व्यक्ति को प्रत्येक दिन योग का अभ्यास करना चाहिए - दिनेश सिंह कुशवाहा
चित्र
भारत को विश्वगुरू बनाने के लिए आगे आए ब्राम्हण समाज-प्रो. द्विवेदी
चित्र